पंचांग (07/06/2021)

🙏।।*श्रीगोपालोजयति*।।🙏

囧 श्रीगोपाल वैष्ण वपीठ गोपाल मंदिर मथुरा 囧

🌷।।द्वादशी।। 🌷

राजा→_→मंगल मंत्री→मंगल

तारीख - ०७/०६/२०२१

सम्वत् नाम ><> आनन्द

विक्रम सम्वत् ><२०७८

शालि वाहन शके >< १९४३

ई .सन् >< २०२१-२२

अयन >< उत्तरायणे

ऋतु >< ग्रीष्मर्तुः

मास ><>< ज्येष्ठ

पक्ष ><>< कृष्ण

तिथि >< द्वादशी १०/१३ दि.९/३८

उपरान्त त्रयोदशी

वार ><>> सोमवार

नक्षत्र >> भरणी ६०/०० संपूर्ण

योग> शोभन २/१० प्रा.६/२६

चन्दमा >< मेष ५०/३८ रा.१/३०

सूर्य ><><> वृष

गुरु ><><कुम्भ

सूर्योदय < 🌅५/४० सूर्यास्त 🌇 ७/०

यात्रा में दिशा शूल सोमवार पूर्व की ओर

त्रयोदशी श्राद्धम्।

एकादशी व्रतस्य पारणा।सोम प्रदोष व्रतं।

आप का दिन मंगलमय हो , शुभ प्रभात ।

मोबाइल नं *9045741008,

<><><><><>जयगोपाल><><><><><><><> बन्धुओं देश, समाज व परिवार की परिस्थिति को देखते हुये सभी से यह कहना है ज्यादा से ज्यादा मृत्युंजय मन्त्र का जाप ज्यादा से ज्यादा संख्या में करे,अधिक से अधिक ११ माला कम से कम एक माला तो रोज अवस्य करे तथा सूर्य नमस्कार करे ।मत्युजंय मन्त्र को स्त्री जप न करे सूर्य नमस्कार करे।इसे कम से कम 31 दिन करके देखे इस से आप को राहत मिलेगी।ज्यादा से ज्यादा संख्या में जप करे।

मृत्युंजय मंत्र ◆त्र्यंबकं यजामहे सुगंधिं पुष्टि वर्धनं।उर्वारुकमिव वंधनान्मृत्यो र्मुक्षी यमामृतात् ।

सूर्य के बारह नाम १.मित्राय नमः।२.रवये नमः।३.सूर्याय नमः।४.भानवे नमः।५. खगाय नमः।६. पृष्ठो नमः।७.हिरण्य गर्भाय नमः।८.मरीचये नमः।९.आदित्याय नमः।१०.सवित्रे नमः।११. अर्काय नमः।१२.भास्कराय नमः। जय गोपाल।

>>>>>>>>>★★★★★<<<<<<<<<<

1 view0 comments

Recent Posts

See All

पंचांग (06/06/2021)

🙏।।*श्रीगोपालोजयति*।।🙏 囧 श्रीगोपाल वैष्ण वपीठ गोपाल मंदिर मथुरा 囧 🌷।।एकादशी।। 🌷 राजा→_→मंगल मंत्री→मंगल तारीख - ०६/०६/२०२१ सम्वत् नाम ><> आनन्द विक्रम सम्वत् ><२०७८ शालि वाहन शके >< १९४३

पंचांग (05/06/2021)

🙏।।*श्रीगोपालोजयति*।।🙏 囧 श्रीगोपाल वैष्ण वपीठ गोपाल मंदिर मथुरा 囧 🌷।।दशमी।। 🌷 राजा→_→मंगल मंत्री→मंगल तारीख - ०५/०६/२०२१ सम्वत् नाम ><> आनन्द विक्रम सम्वत् ><२०७८ शालि वाहन शके >< १९४३ ई

पंचांग 03/06/2021

🙏।।*श्रीगोपालोजयति*।।🙏 囧 श्रीगोपाल वैष्ण वपीठ गोपाल मंदिर मथुरा 囧 🌷।।नवमी।। 🌷 राजा→_→मंगल मंत्री→मंगल तारीख - ०३/०६/२०२१ सम्वत् नाम ><> आनन्द विक्रम सम्वत् ><२०७८ शालि वाहन शके >< १९४३ ई